बीच के किनारे ठंडी रेत में सेक्स करने का आनंद लिया


antarvasna,sex stories

मेरा नाम दीपक है मैं बेंगलुरु का रहने वाला हूं, मेरी उम्र 29 वर्ष है। यह बात कुछ समय पहले की है जब मैं गोवा घूमने के लिये गया हुआ था, मेरे साथ मेरे ऑफिस के दोस्त भी थे। जब हम लोग गोवा गए तो सब लोग बहुत ही खुश थे क्योंकि हम लोगों ने बहुत पहले से प्लानिंग की थी लेकिन काफी समय से वह पूरी नहीं हो पा रही थी, कभी ना कभी किसी को कुछ काम पड़ जाता,  या तो हमें छुट्टी नहीं मिल पा रही थी लेकिन जब हमारा प्लान पूरा हुआ तो हम लोग गोवा चले गए। जब हम लोग गोवा गए तो सब लोग बहुत ही खुश थे, गोवा आते ही हम लोगों ने होटल में रूम ले लिया और सब बड़े ही मस्ती कर रहे थे। हम लोगों ने  उस दिन वाइन शॉप से शराब ले लिया और जाते ही हम लोगों ने बहुत ज्यादा शराब पी ली, पहला दिन तो हमारा नशे में ही कट गया और उस दिन हममें से किसी को भी होश नहीं था।

जब अगले दिन हम लोग उठे तो मुझे बहुत तेज भूख लग रही थी, मैंने रिसेप्शन में फोन किया और कहा कि क्या कुछ खाने के लिए बन सकता है, उन्होंने कहा कि सर हम आपके पास मेनू कार्ड भिजवा देते हैं, आप उसमें से आर्डर करवा दीजिएगा। जब रूम में एक लड़का आया तो उसने मुझे मैंनू कार्ड दे दिया, मैंने उसे कहा मेरे लिए तुम ब्रेड आमलेट ले आना। थोड़ी देर बाद वह मेरे लिए ब्रेड आमलेट ले आए आया, तब तक मेरे सब दोस्त उठ गए और कहने लगे कि क्या तुम इतनी जल्दी उठ गये, मैंने उन्हें कहा कि हां मेरी आंख जल्दी खुल गई थी और मुझे बहुत ज्यादा भूख लग रही थी तो मैंने ब्रेड आमलेट मंगा लिया। वह कहने लगे कि हमारे लिए भी तुम कुछ नाश्ता मंगवा लो, उन्होंने भी अपने लिए नाश्ता आर्डर किया और उसके बाद हम सब लोग फ्रेश होकर नाश्ता करने लगे, नाश्ता करने के बाद हम सब रिसेप्शन में चले गए। रिसेप्सन पर बैठी लड़की पूछने लगी कि सर क्या आपको स्कूटी किराए पर चाहिए, मैंने अपने दोस्तों से पूछा वह कहने लगे ठीक है हम लोग स्कूटी ले लेते हैं। हम लोग चार दोस्त थे इसलिए हम लोगों ने दो स्कूटी ले लिया और हम लोग स्कूटी लेकर घूमने के लिए निकल गए।

Loading...

उस दिन हम लोग ज्यादा नहीं घूम पाए, हम लोगों ने उस दिन बहुत एंजॉय किया और शाम को जब हम लोग बीच के किनारे बैठे हुए थे तो मैं अपने मोबाइल से फोटो ले रहा था। जब मैं फोटो ले रहा था तो मैंने देखा कि मेरे सामने ही मेरी कॉलेज की दोस्त कावेरी है लेकिन मैं उसे अच्छे से नहीं पहचान पा रहा था क्योंकि वह काफी दूर थी, मैं जब उसके पास गया तो मैंने उसे कहा कि कावेरी तुम यहां पर क्या कर रही हो, कावेरी भी मुझे देख कर बहुत ज्यादा शॉक्ड हो गयी और वह मुझसे पूछने लगी कि तुम यहां क्या कर रहे हो, मैंने उसे कहा कि मैं तो घूमने के लिए आया हूं। कावेरी मुझे कहने लगी कि आओ मैं तुम्हें अपने पति से मिलवाती हूं, वह मुझे अपने पति से मिलवाने के लिए ले गई, उसके पति का वहीं सामने पर एक रेस्टोरेंट था।

जब हम लोग वहां पर गए तो मैंने अपने दोस्तों को फोन कर लिया और उन्हें भी वही बुला लिया, उन्हें भी मैंने कावेरी के पति से मिलवाया और हम लोग काफी देर तक वहीं बैठे रहे। मैं कावेरी के साथ ही बैठा हुआ था, मैं कावेरी से पूछने लगा कि क्या तुम्हारी शादी गोवा में हुई है, वह कहने लगी हां मेरी शादी यहीं गोवा में हुई है। मैंने कावेरी से कहा तुम तो कॉलेज के बाद मुझे कभी दिखी ही नहीं, कावेरी भी कहने लगी कि मेरी उसके तुरंत बाद ही शादी हो गई थी और मैं तब से मैं गोवा में ही हूं, वह कहने लगी कि चलो कम से कम इस बहाने तुमसे तो मुलाकात हो गई।  हम लोग अपने कॉलेज के पुराने दिन याद करने लगे और कावेरी मुझसे और भी कॉलेज के दोस्तों के बारे में पूछ रही थी, मैंने उसे कहा कि मेरी अब तो ज्यादा लोगों से बात नहीं होती लेकिन कुछ लोग मेरे संपर्क में है, उनसे मेरी बात हो जाया करती है।

मुझे कावेरी के साथ में बैठ कर बात करना अच्छा लग रहा था और कावेरी भी मेरे साथ बहुत खुश थी, वह अपने आप को बहुत अच्छा महसूस कर रही थी और कहने लगी कि मुझे तुम्हारे साथ बात कर के बहुत अच्छा लग रहा है,  मैं बहुत ही खुश हूं क्योंकि मुझे तो बिल्कुल भी उम्मीद नहीं थी कि मेरी मुलाकात तुमसे हो जाएगी। मैंने भी कावेरी से कहा कि मुझे भी बिल्कुल उम्मीद नहीं थी कि मैं तुमसे कभी मिल भी पाऊंगा। हमारे कॉलेज में इतनी ज्यादा बात नहीं होती थी लेकिन कावेरी एक बहुत ही अच्छी लड़की है वह पढ़ने में बहुत अच्छी थी और सब लोग उसकी बहुत तारीफ करते हैं थे।

मैंने कावेरी से कहा कि हम लोग अभी चलते हैं मैं तुमसे कल मिलूंगा, वह कहने लगी ठीक है तुम कल रेस्टोरेंट में आ जाना, मैं तुम्हें वहीं मिल जाऊंगी क्योंकि कल मेरे पति कहीं बाहर जा रहे हैं इस वजह से मैं ही कल रेस्टोरेंट में रहने वाली हूं और शायद कुछ दिनों तक मैं यहां का काम देखूंगी। मैंने कावेरी से कहा ठीक है मैं कल तुमसे शाम के वक्त मिलने आऊंगा, उसके बाद हम लोग अपने होटल में चले गए। मेरे दोस्त मुझसे पूछने लगे कि तुम कावेरी को कब से जानते हो, मैंने उन्हें कहा कि हम लोग कॉलेज में साथ में ही पढ़ते थे और कावेरी बहुत ही अच्छी लड़की है, कॉलेज में भी सब लोग उसकी बहुत तारीफ करते थे लेकिन जब से उसकी शादी हुई है, उसके बाद वह मुझे आज ही मिली है। अब हम लोग होटल में आ गये और हम लोग होटल में ही आराम करने लगे। मेरे दोस्त कहने लगे कि हम लोगों का शराब पीने का मन हो रहा है, मैंने कहा ठीक है हम लोग वाइन शॉप से शराब ले आते हैं।

जब हम लोग वाइन शॉप में गए तो हम लोगों ने वहां से शराब की बोतल ले ली और उसके बाद हम लोग कमरे में आकर शराब पीने लगे। हम लोगों ने रिसेप्शन पर फोन कर के कुछ खाने के लिए आर्डर कर दिया था क्योंकि देर भी काफी हो चुकी थी और भूख भी बहुत ज्यादा लग रही थी इसी वजह से हम लोगों ने उस दिन खाने का ऑर्डर कर दिया। शराब पीने के बाद हम लोगो ने खाना खाया,  खाना खाकर सब तो सो चुके थे लेकिन मुझे नींद नहीं आ रही थी, मैं काफी देर तक ऐसे ही ठहलता रहा, मैंने सोचा क्यों ना मैं अपने घर वालों को फोन कर लूं। मैंने अपने पापा को फोन कर दिया और मेरे पापा पूछने लगे तुम गोवा से कब लौट रहे हो, मैंने उन्हें कहा कि कुछ दिनों बाद ही मैं लौट जाऊंगा,  वह कहने लगे ठीक है चलो तुम एंजॉय करो और अपना ध्यान रखना,  उसके बाद मैं भी सो गया। अगले दिन उठकर हम लोग घूमने के लिए निकल पड़े, हम सारे दोस्त लोग बहुत ज्यादा खुश थे।

मैंने अपने दोस्तों से कहा मैं कावेरी से मिल कर आता हूं तुम लोग होटल में चलो। मैं उसे मिलने के लिए चला गया। जब मैं कावेरी से मिला तो कावेरी कहने लगी मैं तुम्हारा ही इंतजार कर रही थी मुझे लगा शायद तुम नहीं आओगे लेकिन तुम आ गए। कावेरी कहने लगी आज हम दोनों डिनर साथ में ही करेंगे उसने और मैंने एक साथ ही डिनर किया। मैंने उसे पूछा कि क्या तुम ड्रिंक करती हो वह कहने लगी हां मैं ड्रिंक करती हू। हम दोनों ने उस दिन साथ में  मदिरा पी। मैं और कावेरी साथ में ही बैठे हुए थे

उस दिन उसे देख कर मुझे पता नहीं क्या हुआ और मुझे लगा कि शायद मुझे कावेरी के साथ सेक्स करना चाहिए। मैंने कावेरी से इस बारे में बात की तो वह भी पूरी तरीके से बदल चुकी थी। वह बहुत ही खुले विचारों की हो गई थी इसलिए उसने भी कोई आपत्ति नहीं जताई और हम दोनों ही बीच के किनारे चले गए। बीच के किनारे जब हम लोग गए तो वहां पर अंधेरा था। कावेरी ने मेरी पैंट को खोलते हुए मेरे लंड को अपने मुंह में ले कर सकिंग करने लगी। वह बड़े अच्छे तरीके से मेरे लंड को चूस रही थी और मुझे बहुत आनंद आ रहा था जिस प्रकार से वह सकिंग करती। मैंने कहा कि तुम तो बड़े अच्छे से मेरे लंड को चूस रही हो मुझे बहुत अच्छा लग रहा है। काफी देर उसने ऐसा ही किया उसके बाद जब मैंने उसकी जींस को उतारा तो उसकी बड़ी बड़ी गांड मेरी आंखों के सामने थी। मैंने भी कावेरी की योनि को चाटना शुरू किया और जिससे कि उसकी चूत से पानी की धार भी निकलने लगी उसके पानी को मै अपने मुंह में लेने लगा।

मैंने जैसे ही अपने लंड को उसकी योनि के अंदर डाला तो वह चिल्लाने लगी। मुझे बड़ा अच्छा लगा मैं जिस प्रकार से अपने लंड को उसकी चूत मे डाल रहा था। वह बहुत तेज चिल्ला रही थी और मुझे बड़ा मजा आ रहा था जिस प्रकार से कावेरी अपनी चूतड़ों को मेरी तरफ मिला रही थी। वह पूरे मूड में आ जाती और कहती तुम मुझे और भी तेज तेज धक्के मारो। मैंने उसे बड़ी तेजी से चोदा लेकिन जब मेरा माल गिरा गया तो उसने मेरे लंड को अपने मुंह में लेकर चूसना शुरू कर दिया। वह मेरे लंड को चुस रही थी और मेरा लंड खड़ा हो चुका था। जैसे ही मैंने कावेरी को घोड़ी बनाया और उसकी योनि के अंदर अपने लंड को डाला तो वह चिल्लाने लगी और हम दोनों का शरीर बहुत ज्यादा गर्म होने लगा था। वह मुझे कहने लगी तुम यही लेट जाओ मैं तुम्हारे ऊपर से आती हू। जैसे ही उसने अपनी योनि के अंदर मेरे लंड को लिया तो मुझे बड़ा अच्छा महसूस हुआ। वह अपनी चूतडो को हिला रही थी। मैं रेत में लेटा हुआ था और मैं भी उसे झटके दे रहा था। रेत बहुत ही ठंडी थी लेकिन कावेरी और मैं दोनों मजे ले रहे थे। उसकी बड़ी चूतडे मुझसे टकराती तो मुझे अच्छा लगता। मैं उसे धक्के मारता ही रहा मैंने उसके बड़े बड़े स्तनों को भी अपने मुंह में ले रखा था लेकिन जैसे ही मेरा वीर्य कावेरी की योनि में गया तो वह तुरंत ही मेरे ऊपर से उठ गई उसकी योनि से मेरा माल गिर रहा था। कावेरी कहने लगी मुझे तुम्हारे साथ सेक्स कर के मजा आ गया। मैं जितने दिन गोवा में था उतना दिन मैने कावेरी को चोदा।

error:

Online porn video at mobile phone