जवानी का जोश अलग होता है


Hindi sex story, kamukta मैं एक दिन विजय को फोन करता हूं विजय मेरे साथ पुणे में पढ़ाई करता था लेकिन अब हम दोनों की पढ़ाई पूरी हो चुकी है। मैंने तो पुणे में ही अपनी नौकरी ज्वाइन कर ली है लेकिन विजय अब चंडीगढ़ चला गया है जब मैंने विजय को फोन किया तो पहले किसी ने फोन नहीं उठाया लेकिन जब मैंने दूसरी बार कॉल किया तो सामने से किसी लड़की की आवाज आई मैंने उसे कहां आप कौन बोल रहे हैं। वह कहने लगी मैं विजय की बहन पायल बोल रही हूं मैंने पायल से कहा मुझे विजय से बात करनी थी तो पायल कहने लगी यह नंबर तो भैया ने मुझे दे दिया है और अब यह नंबर मेरे पास है। मैं आपको भैया का दूसरा नंबर दे देती हूं लेकिन अभी वह शायद आपसे बात नहीं कर पाएंगे क्योंकि आज उनके ऑफिस में कुछ जरूरी मीटिंग थी इसलिए उन्होंने आज मुझे भी फोन करने से मना किया था।

मैंने पायल से कहा तो तुम मुझे विजय का नंबर दे देना और फिर मैंने फोन रख दिया काफी समय से मेरी विजय से बात नहीं हुई थी क्योंकि अब वह भी अपने ऑफिस के काम में बिजी था और मुझे भी समय कम ही मिला करता था। इस वजह से हम दोनों को शायद अब समय नहीं मिल पाता था कि हम दोनों एक दूसरे से बात कर पाए लेकिन पायल ने मुझे विजय का नंबर मैसेज नहीं किया। मैंने उसे दो घंटे बाद फोन किया पायल ने दोबारा से फोन उठाया मैंने उसे कहा आपने मुझे विजय का नंबर मैसेज नहीं किया तो पायल कहने लगी ठीक है मैं आपको अभी मैसेज कर देती हूं। मैं जैसे ही फोन रखने वाला था तो पायल ने मुझ से पूछा लेकिन आप कौन बोल रहे हैं मैंने पायल से कहा मैं अमित बोल रहा हूं विजय मेरे साथ पुणे में पढ़ाई करता था और हम दोनों ने साथ में ही अपनी पढ़ाई पूरी की है। पायल मुझे पहचान गई और कहने लगी भैया मुझे आपकी फोटो दिखा कर कहने लगे कि यह मेरा दोस्त अमित है वह मुझे कहने लगी भैया आपकी बहुत तारीफ करते हैं और हमेशा आपके बारे में बात करते रहते हैं।

पायल से बात करके ना जाने मुझे क्यों अच्छा लग रहा था मैं पायल से कभी मिला नहीं था मेरी पहली बार ही उससे फोन पर बात हुई थी लेकिन ना जाने उससे बात करना मुझे क्यों अच्छा लगा और कुछ देर बाद मैंने फोन रख दिया। पायल ने मुझे विजय का नंबर मैसेज कर दिया था जब पायल ने विजय का नंबर मैसेज किया तो मैंने उसे मैसेज में ही थैंक्यू का रिप्लाई किया और शाम के वक्त मैंने विजय को फोन किया। मैंने विजय से कहा तुमने नया नंबर ले लिया है वह कहने लगा यह नंबर मैंने घर पर दे दिया था और मैंने नया नंबर ले लिया है मैंने विजय से पूछा तुम्हारी जॉब कैसी चल रही है विजय कहने लगा जॉब तो अच्छी चल रही है तुम सुनाओ तुम्हारी जॉब कैसी चल रही है मैंने उसे कहा मेरी जॉब भी अच्छी चल रही है। मैंने विजय से कहा तुम कभी इधर भी आओ वह कहने लगा यार तुम्हें तो मालूम है कि अभी जॉब करते हुए कुछ समय ही हुआ है और छुट्टी मिलना मुश्किल ही है लेकिन फिर भी कोशिश करूंगा। मैंने विजय से कहा तुम्हें यहां पर सब लोग याद करते हैं वह लोग तुम्हारे बारे में हमेशा पूछते हैं कि विजय आजकल क्या कर रहा है क्योंकि मैं ही तुम्हारे सबसे ज्यादा नजदीक था इसलिए वह लोग मुझसे तुम्हारे बारे में पूछते हैं। हम लोगों ने उस दिन आधे घंटे तक बात की और उसके बाद मैंने फोन रख दिया मैं भी अपने काम में बिजी था और मुझे भी ज्यादा समय नहीं मिल पाता था। एक दिन मैंने विजय को फोन किया तो उस दिन भी पायल ने फोन उठाया पायल मुझे कहने लगी मैंने आपको भैया का नंबर दिया तो था लेकिन शायद मैंने उस दिन विजय का नंबर सेव नहीं किया और जो नंबर मेरे मोबाइल में सेव था मैंने उसी नंबर पर कॉल कर दिया। पायल से उस दिन मेरी बात काफी देर तक हुई और उससे बात कर के मुझे अच्छा लगने लगा अब मैं किसी ना किसी बहाने पायल को फोन करने लगा था पायल को भी शायद मुझसे बात करना अच्छा लगता था। हम दोनों के बीच अब फोन पर ही बातें होती थी लेकिन यह बात ना तो पायल ने विजय को बताई थी और ना ही मैं उसे इस बारे में कुछ बताना चाहता था मैं हमेशा ही इस बात से चिंतित रहता कि कहीं यह बात विजय को पता चली तो कहीं वह मेरे बारे में कोई गलत धारणा अपने दिमाग में पैदा ना कर ले इसीलिए मैंने उसे कभी भी इस बारे में बताने की नहीं सोची।

Loading...

पायल और मैं अब एक दूसरे को प्यार करने लगे थे हम दोनों कभी एक दूसरे से मिले नहीं थे लेकिन हम दोनों के बीच बहुत ज्यादा प्यार था पायल मुझसे मिलना चाहती थी लेकिन मैं अपने काम में इतना व्यस्त था कि उससे मिल पाना मेरे लिए संभव नहीं था। एक दिन मुझे लगा कि मुझे पायल से मिलना चाहिए उस दिन मैं पायल से मिलने के लिए चंडीगढ़ चला गया जब मैंने विजय को यह बात बताई कि मैं चंडीगढ़ आया हूं तो वह मुझे लेने के लिए स्टेशन पहुंचा उसने जब मुझे रिसीव किया तो वह मुझे अपने घर ले गया। मैं पहली बार ही पायल से मिला था पायल को जब मैंने देखा तो मुझे बहुत अच्छा लगा और हम दोनों एक दूसरे को देख कर मुस्कुराने लगे विजय ने उस दिन अपने ऑफिस से छुट्टी ले ली थी और उसने मुझे कहा मैं तुम्हें चंडीगढ़ घुमाना चाहता हूं। हम लोग चंडीगढ़ घूमने के लिए निकल पड़े हमारे साथ पायल भी थी मैं विजय के सामने पायल से ज्यादा बात तो नहीं कर सकता था लेकिन मैं जब भी पायल को देखता तो मुझे अच्छा लगता और मैं उसे देखकर मुस्कुरा दिया करता। पायल और मेरे बीच में बहुत ही ज्यादा प्यार बड़ चुका था और इस बात का अंदाजा तो मुझे इसी बात से था कि पायल कितनी ज्यादा खुश है उसके चेहरे पर बहुत ज्यादा खुशी थी। विजय के परिवार वालों से भी मेरी अच्छी बातचीत होने लगी थी मैंने कुछ दिनों के लिए अपने ऑफिस से छुट्टी ले ली थी क्योंकि मैं चाहता था कि मैं कुछ समय पायल के साथ बिताऊँ मैं विजय से मिलकर भी बहुत ज्यादा खुश था।

मुझे विजय के घर पर दो दिन हो चुके थे और विजय तो अपने ऑफिस चले जाया करता था तो पायल और मैं साथ में समय बिताया करते पायल और मैं शाम के वक्त उनके घर के पास ही एक पार्क है हम वहां पर बैठने के लिए चले जाया करते थे। हम दोनों एक साथ काफी अच्छा समय बिता रहे थे पायल ने मुझे कहा मुझे तो कभी उम्मीद भी नहीं थी कि आप से मैं प्यार कर बैठूंगी लेकिन हम दोनों का प्यार बड़ा ही अजीब था हम दोनों की फोन पर ही बात हुई थी और फोन के माध्यम से ही हम दोनों के बीच प्यार हो गया। मैंने पायल से कहा मुझे पहले तो बहुत अजीब लग रहा था जब मैं तुमसे बात करता था क्योंकि मुझे डर था कि यदि तुमने यह बात अजय को बता दी तो वह मेरे बारे में क्या सोचेगा लेकिन मैंने हिम्मत करते हुए तुमसे अपने दिल की बात कह दी थी। पायल मुझसे कहने लगी मैं जब आपसे बात करती हूं मुझे भी अच्छा लगता था और मुझे बिल्कुल उम्मीद नहीं थी कि मैं आपसे प्यार कर बैठूंगी लेकिन हम दोनों के बीच बहुत अच्छा रिलेशन है और मैं आपसे बहुत ज्यादा प्यार करती हूं। मैं कुछ और दिनों तक चंडीगढ़ में रहना चाहता था क्योंकि शायद दोबारा चंडीगढ़ आना मेरे लिए मुश्किल था इसलिए मैंने कुछ दिन और रुकने का फैसला कर लिया था। मैं और पायल ज्यादातर समय साथ ही बिताया करते थे एक दिन उसके पापा मम्मी भी कहीं चले गए पायल और मैं घर में अकेले थे हम दोनों अपनी जवानी पर काबू ना कर सके। मैंने जब पायल के गुलाबी होठों को किस किया तो मेरे अंदर एक अलग ही जोश पैदा हो गया और पायल भी उत्तेजित हो गई।

मैंने उसके होंठों को बहुत देर तक अपने होंठों में लेकर चुमा उसे बहुत मजा आ रहा था और मुझे भी बहुत मजा आ रहा था मैंने पायल के होंठो से खून निकाल कर रख दिया था। मैंने जब उसके स्तनों को देखा तो मैं अपने अंदर काबू ना कर सका और मैं उसके स्तनों को चूसने लगा मैं उसके स्तनों को बड़े अच्छे से अपने मुंह में लेकर चूसने लगा मैंने उसके निप्पलो से दूध बाहर निकाल दिया। मैंने अपने लंड को पायल की चूत पर सटाया तो उसे बड़ा अच्छा महसूस हो रहा था मैंने उसकी योनि पर अपने लंड को कुछ देर तक रगडना जारी रखा, जब उसकी योनि गीली हो गई तो मैंने धक्का देते हुए उसकी चिकनी योनि के अंदर अपने 9 इंच मोटे लंड को घुसा दिया। मेरा लंड उसकी योनि में जाते ही उसकी योनि से खून की धार बाहर की तरफ निकल पडी उसकी योनि से खून का बहाव बहुत तेजी से हो रहा था लेकिन उसने अपने दोनों पैरों को इतना चौड़ा कर लिया कि मैं उसे बड़ी तेज गति से धक्के देता जाता। मेरा लंड जैसे ही उसकी योनि के अंदर बाहर होता तो मेरे अंदर का जोश भी बढ़ जाता और उसे भी बहुत मजा आता मैं उसे लगातार तेजी से धक्के दे रहा था।

मै कितने देर उसके शरीर की गर्मी को झेल पाता जब उसका शरीर गर्मी छोडने लगा तो मैं उसके स्तनों को अपने हाथों से दबाता रहता और अपने मुंह में ले लेता। जब मैंने उसे घोड़ी बनाकर चोदना जारी किया तो वह चिल्ला उठी और उसकी चूतड़ों को मैंने लाल कर दिया उसकी चूतड़ों का रंग लाल हो चुका था और उसके अंदर का जोश भी बहुत अधिक हो गया था जिससे कि उसकी चूत की गर्मी को मैं झेल ना सका और मेरा वीर्य पतन हो गया। जब मेरा वीर्य पायल की योनि में गिरा तो वह मुझे कहने लगी कहीं में प्रेगनेंट तो नहीं हो जाऊंगी मैंने उसे कहा तुम चिंता ना करो तुम सिर्फ अपना ध्यान दो। मैंने उसे समझा दिया था और उसके बाद उसे भी कोई चिंता नहीं थी हम दोनों के बीच अब भी उतना ही प्यार है लेकिन मैं विजय से पायल के बारे में कहने से डरता हूं और पायल ने भी कुछ नहीं कहा। मुझे बिल्कुल भी उम्मीद नहीं है कि पायल और मेरा रिश्ता कभी आगे बढ़ पाएगा।

इस अन्तर्वासना कहानी को शेयर करें :
error:

Online porn video at mobile phone


new antarvasna hindi storyneha ki chodaibus me chudai ki kahanimaa bahan ki chudai ki kahanibollywood actress sex story in hindimaa bete ki chudai ki hindi kahanianterwashna hindi comhindi stories of antarvasnaantarvasna 2012anterwasana hindi comantarvasna in hindididi ki malishanter wasnadost ki maa ki chudai ki kahanibete ne maa ko choda hindi kahaniantrvasna com hindi sex storiesjeth se chudidoctor ki chudai ki kahanimami ki moti gandantarvadsnamadam ne chodapure parivar ki chudaipela peli kahanimalkin ki malishantetvasnamausi ki chudai hindi storyhindichudaikikahaniàntarvasnamalish karke chudaihindi sexy story antarvasanaantervasn hindichudai ka khelhindi insect sex storieswww antarwasna sex story comantarvasna punjabiantarvasna balatkar storyantarvasna hindi chudai kahanimoti maa ko chodajeth se chudiantravasana hindi story comanterwasna sex stories comma ne chudwayaantarvasna new hindiदेसी सेक्स स्टोरीmom antarvasnaactress ki chudai kahaniaunty ki antarvasnamoti aunty ki chudai kahanibhabhi ne chudwayapapa mummy ki chudaiwww antarwasna cmaa ko chodne ki kahanimalkin ki malishneha didi ki chudaimalkin ki chudai ki kahaniwww antarwasna sexy story comsexy kahanimadam ne chodaantervasna hindi.comàntarvasnamaa ki gand me lundsaali chudaikamsutra in hindi storyhospital me chodamoti aunty ki chudai kahaniantarvasna punjabimaa behan ki chudai ki kahaniantravastra hindi storymaa ki antarvasnabhabhi ki chut chatimami chutantravashna in hindichacha ne maa ko chodamami ki chudai ki kahanipayal ki chudaisauteli maa ki chudai