पापा के दोस्तों से मम्मी की चुदाई


gangbang kahani हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम कुसुम है, मेरी उम्र 18 साल है, मेरा फिगर साईज 34-30-34 है, रंग गोरा, में लंड और गोलियों की भूखी लड़की हूँ, मुझे जब लंड मिलता है तो में पागल कुत्तिया की तरह हो जाती हूँ, में कपड़ो में बहुत शरीफ बच्ची हूँ, लेकिन दोस्तो मेरे कपड़े उतरते ही बिल्कुल रंडी हूँ, जिसको जितना तड़पाओं उतना ही मज़ा आता है, जितनी सख्ती करो उतना ही मज़ा देती हूँ। दोस्तों पापा के 3 दोस्त मेरी चुदाई करते है और एक दिन उन्होंने बताया कि उन सबने मिलकर मम्मी की भी चुदाई की है, तो तब में बड़ी हैरान हुई थी। पापा के 3 दोस्त और में चुदाई के बाद फर्श पर नंगे लेटे हुए गहरी-गहरी साँसे ले रहे थे। तो तब में बोली कि अंकल मम्मी से ज़्यादा मज़ा आता है या मुझसे आया। तब वो बोले कि साली तुम दोनों कुत्तिया ही टॉप क्लास रंडी हो, बाकी तेरी मम्मी को हम बहुत चोदते है, मारते है। तो तब में बोली कि अंकल तुम झूठ बोलते है, मम्मी ऐसी नहीं है। तब वो बोले कि आज रात को तेरी रंडी माँ की चुदाई दिखाऊँ तुझे। तब में बोली कि कैसे? फिर रमेश अंकल ने मम्मी का मोबाईल नम्बर मिलाया और लाउड स्पिकर ऑन कर दिया।
मम्मी : हैल्लो।
रमेश अंकल : कहाँ पर है?
मम्मी : ऑफिस।
रमेश : किससे चुद रही है?
मम्मी : क्यों? क्या हुआ जानू?
रमेश : हरामजादी, वहाँ क्या कर रही है? हम तीनों अपना लंड हाथ में पकड़कर बैठे है।
मम्मी : लेकिन आज तो मुझे पार्टी में जाना है।
रमेश : रात को जाना है, अब आ जा, शाम को चली जाना।
मम्मी : कुसुम होगी ना?
रमेश : वो रंडी भी कही चुदने गयी होगी।
मम्मी : वो घर नहीं है।
रमेश : नहीं, कही गयी है, कह रही थी शाम तक आऊँगी।
मम्मी : ठीक है, में आती हूँ।

अब में मम्मी की ऐसी बातें सुनकर हैरान हो गयी थी, लेकिन गर्म भी हो गयी थी। तब मैंने पूछा अब? तो वो बोले कि तू रूम की खिड़की से देखना, हम यहीं उसको कुत्तिया बनाते है और मेरी फटाफट चुदाई करने लगे। तभी बाहर कार का हॉर्न बजा तो में अपने कपड़े लेकर रूम में आ गयी और वो तीनों वहीं नंगे पड़े रहे। फिर बाहर से मम्मी की आवाज आई, सुरेश दरवाज़ा खोलो। तब सुरेश अंकल नंगे ही दरवाज़ा खोलने चले गये। अब में आपको मम्मी के बारे में बता दूँ कि उनका नाम विमला है, उम्र 40 साल के करीब, खूब गोरी, फिगर साईज 38-30-36 है, वो ज्यादातर साड़ी और सूट डालती है, वो पार्टी की शौकीन है। फिर मम्मी अंदर आई और दरवाज़ा बंद कर दिया। तो तब मम्मी ने देखा कि वो तीनों अपने लंड अपने-अपने हाथ में लेकर हिला रहे थे। तो तब मम्मी बोली कि क्या बात है? इतनी बेताबी। तो तब सुरेश बोला कि हरामजादी, कुत्तियाँ, देख तेरे इंतज़ार में इनकी क्या हालत हो रही है?
तो तब मम्मी सुरेश अंकल का लंड पकड़कर बोली कि चिंता मत करो, तुम्हारी कुत्तियाँ आ गयी है, अभी इनको ठीक करती हूँ। फिर वो तीनों मम्मी को उठाकर सोफे के पास ले आए, जहाँ कुछ देर पहले मेरी चुदाई हुई थी। अब मम्मी की बारी थी। अब मम्मी नीली साड़ी और नीले ब्लाउज में थी। तब विमला बोली कि कुसुम कहाँ गयी है? तो तब जॉन अंकल बोले कि वो भी कहीं तेरी तरह चुद रही होगी? तो तब विमला बोली कि अरे बच्ची को तो छोड़ दो, वो बच्ची है। तो तब वो बोले कि वो तुझसे भी बड़ी रंडी दिखती है। तो तब सुरेश अंकल बोले कि हरामजादी बात ही करती रहेगी या इनका भी ख्याल करेगी।

Loading...

अब वो तीनों नंगे ही मम्मी से चिपक गये थे। फिर सुरेश ने अपना हाथ आगे करके मम्मी की साड़ी खोल दी, तो उनकी साड़ी पैरो में आ गयी थी। अब इधर मेरा बुरा हाल था, अब मेरी धड़कन तेज हो गयी थी और फिर धीरे-धीरे विमला के कपड़े उतरते गये। अब वो ब्रा और पेटीकोट में थी। अब रमेश अंकल सोफे पर बैठे थे। फिर उन्होंने विमला को अपने पैरो के बीच में नीचे बैठाया और अपना लंड उनके मुँह में दे दिया। तो तब जॉन अंकल ने उनकी ब्रा खोली। अब मम्मी के बड़े-बड़े बूब्स नंगे हो गये थे। अब जॉन अंकल उनको कस-कसकर दबा रहे थे। अब मम्मी आह, ऊहहह कर रही थी। फिर सुरेश अंकल ने मम्मी का पेटीकोट और पेंटी उतार दी। अब में मम्मी के मोटे-मोटे चूतड़ देखकर हैरान थी। फिर सुरेश अंकल ने मम्मी के कूल्हों पर खींचकर 4-5 थप्पड़ मारे, तो बहुत तेज आवाज़ आई। अब उनके कूल्हों पर हाथ के लाल निशान पड़ गये थे। तभी मम्मी चीखी और अपने हाथ चूतडों पर ले गयी। फिर सुरेश ने विमला के हाथ पकड़े और अपना लंड उनकी चूत पर रगड़ने लगे थे। अब मम्मी अपने घुटनों पर थी और जॉन अंकल का लंड चूस रही थी और रमेश उनकी चूचीयों के निपल काट रहा था। फिर सुरेश ने मुझे इशारा किया कि में अंदर आ जाऊं। अब जॉन अंकल का मुँह भी मेरी तरफ था। अब में सुरेश अंकल के पास खड़ी हो गयी थी। अब जॉन अंकल ने मम्मी का सिर पकड़कर अपने लंड पर झुका रखा था। फिर सुरेश अंकल ने मम्मी के चूतड़ अलग करके मम्मी की चूत दिखाई, तो में झुककर मम्मी की चूत देखने लगी। फिर सुरेश अंकल ने अपना लंड मेरे हाथ में दिया और इशारा किया कि में उनका लंड पकड़कर मम्मी की चूत में डाल दूँ। तब मैंने उनका लंड अपने एक हाथ में लिया और मम्मी की चूत में लगाया और थोड़ा सा अंदर सरका दिया। तो तब मम्मी अपने चूतड़ मटकाने लगी थी। अब में डर गयी थी और वापस आने लगी थी। तो तब सुरेश अंकल ने मेरी चूचीयाँ पकड़ ली, लेकिन में छूटकर भाग आई। अब मेरी चूत गीली हो चुकी थी।

फिर सुरेश अंकल मम्मी की चूत पर अपना लंड रगड़ते रहे। तो तब मम्मी बोली कि जान क्यों तड़पाते हो? में तुम्हारे इस लंड के लिए तो तरस रही हूँ, इन लंडो के लिए तो में कुत्तिया बनी हूँ। फिर सुरेश ने ज़ोर का एक धक्का मारा। तो तब मम्मी चिल्लाई आआआईईईईई, आआआहह, आआह। अब सुरेश अंकल ने अभी 4-5 धक्के ही मारे होंगे कि जॉन अंकल ने मम्मी को आगे खींच लिया। अब मम्मी की चूत में से लंड बाहर निकल गया था। फिर जॉन अंकल ने मम्मी को अपनी गोदी में अपने लंड के ऊपर बैठा लिया, तो उनका लंड मम्मी की चूत में समा गया और फिर पीछे से रमेश थप्पड़ मारता और मम्मी को जॉन अंकल के ऊपर धक्का दिया तो मम्मी जॉन अंकल के ऊपर गिर गयी। तब रमेश अंकल बोले कि विमला मेरी बड़ी तम्माना है कि तेरी बेटी मेरा लंड पकड़कर तेरी गांड में डाले। तब मम्मी बोली कि पागल हो क्या? वो अभी बच्ची है। तब रमेश अंकल बोले कि वो बच्ची नहीं है, वो तो तुझसे भी हॉट लगती है और यह कहते हुए मम्मी के चूतड़ अलग किए और उनकी गांड पर अपना लंड लगाया और झटके में अंदर कर दिया।
तब मम्मी दुबारा से चीखी आहह, आआआआआ, ओह गॉड। अब दोनों तरफ से धक्के स्टार्ट हो गये थे। फिर सुरेश अंकल ने अपना लंड मम्मी के मुँह में दिया। अब धकाधक धक्के लग रहे है और वो बोल रहे थे ले हरामजादी, ले पूरा लंड अपनी गांड में ले और मम्मी उउउ, आह कर रही थी। अब जब जोरदार धक्का पड़ता, तो तब मम्मी जोर से चीखती आआअहह, ईईसस्सस्स, फुक मी, फुक मी, ज़ोर से चोदो अपनी हरामजादी को, ले कुत्तियाँ ले, और फिर सुरेश अंकल ने अपना पानी मम्मी के मुँह पर निकाल दिया। फिर सुरेश अंकल बोले कि में अभी आता हूँ और फिर वो मेरे पास में आए और मेरे कान में बोले कि लो साफ नहीं करेगी। तो तब में उनका लंड अपनी जीभ से साफ करने लगी। अब मम्मी की आवाज़े आ रही थी फुक्कककक मी, चोदो मुझे।
तब रमेश अंकल बोले कि देख ले, आज तो तूने अपने हाथ से अपनी माँ की चूत में लंड दिया है। तो तब में मुस्कराने लगी। तब वो बोले कि अगली बार तेरी रंडी माँ अपने हाथ से मेरा लंड तेरी चूत में देगी। अब ठपाठप की आवाज़े आ रही थी। फिर उन्होंने मम्मी को जमीन पर लेटाकर पहले अपना पानी छोड़ा और वो सबने चुदाई का मजा लिया ।।
धन्यवाद

इस अन्तर्वासना कहानी को शेयर करें :

Online porn video at mobile phone


antarvasna chachi bhatijaantarvasna 1neha ko chodadesi hindi kahaniyansachi sex kahanidesi lesbian kahanihindi gangbang storiesrandiyo ka pariwarmosi ki chudai kahanijija sex storyfree antarvassna hindi storypreetinandinimaa bete ki sex kahani hindi maiantarvasna.cimantarvasna bfsauteli maa ki chudaimaami ki gaandantarvasnan.comantarvasna hindi chudai storyantarvasna didiincest stories in hindichudai ki kahani ladki ki jubanimosi sex kahaniindian bhabhi ki chudai kahaniàntarvasnadidi ki chutantarvasna ki storyantarvassna 2014 in hindididi ki chdaididi ke chutsakshi ki chudaigujrati chudai storyantarvasna bahudesi lesbian kahaniwww sexkahani netwww.mantarvashna.compeli pela kahanichoot ki khushbooactress hindi sex storymaa ko maine chodahindi incest sex kahanifree hindi sex story antarvasnamaa bete ki sex kahani hindi maikamasutra kahani in hindimaa ko maine chodapagal ko chodapayal ki chudaisex story hindi antervasnakamasutra sex story in hindimaa ki gand storyactress sex story in hindisex story parivarantarvasna mausiwife swapping story hindiantar wasna storieskirayedar ki chudaiantarvasna suhagraatbhabi ki chudai storiantarvasna storyindian antarvasnaantarwasna hindi sex storyantarvasna jabardastiboor ki chatniriya ki chudaipreetinandinigandu antarvasnaantarvasna free hindi storybete se chudwayaantarvasanasexstoriesmaa ki gand mariantrwasnahindi maa bete ki chudai ki kahaniantarvasna schoolsauteli maa ki chudaiantarvasna story hindimaa ki gand chatihindipornstorieskamsutra ki kahani hindisonali ki chudaihindi kamasutra sex storyantarvasna new storygand antarvasnanew hindi antarvasnaantarvasna hindi chudai kahanikamsutra khaniyaaunty ki chudai dekhidesi bhabhi sex storychoot ki khushboonew story antarvasnaactress ki chudai storyantarvastra hindi storybehan ki gaandbhai ka mut piyaantarvasna com hindi kahanimalish karke chudaichut antarvasnanangi mamiantarvadsna story hindiwww antarvasna hindi kahaninew antarvasana com